Software Engineer Kaise Bane Hindi : कंप्युटर और कोडिंग में रुचि हैं तो बने सॉफ्टवेयर इंजीनियर

Software Engineer Kaise Bane Hindi
Software Engineer Kaise Bane Hindi

कंप्युटर ,इंटरनेट और नई नई टेक्नोलॉजी आने के बाद युवाओ के लिए करियर के नए नए अवसर खुल रहे हैं। ऐसे में अगर आपको टेक्नोलॉजी और कंप्यूटर में रुचि हैं। तो आप सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनकर अपना करियर सँवार सकते हैं। अगर आप सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनाना चाहते हैं तो इस लेख को अंत तक पढ़ें। इस लेख में हम आपको बताने वाले हैं। सॉफ्टवेयर इंजीनियर कैसे बनें। Software Engineer Kaise Bane Hindi, सॉफ्टवेयर  इंजीनियरिंग कैसे करें Software Engineering Course Kaise Kare, कंप्यूटर इंजीनियर कैसे बनें Computer Engineer kaise Bane Hindi  सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनने के लिए कितनी योग्यता होनी चाहिए। इत्यादि

टेक्नोलॉजी के इस दौर में बिना इंटरनेट और कंप्युटर के काम करना असंभव हैं। आज के समय में कंप्युटर का इस्तेमाल काम को आसान बनाने के लिए हर क्षेत्र में किया जा रहा हैं। जिसके कारण कंप्यूटर के क्षेत्र में युवाओं के लिए करियर के अवसर भी खुल रहे हैं।

वर्तमान समय में लाखों छात्र कंप्युटर के क्षेत्र में सॉफ्टवेयर इंजीनियर , मोबाइल इंजीनियर , कंप्यूटर इंजीनियर बनकर अपना करियर बनाना चाहते हैं। अगर आप भी उन्ही छात्रों में से एक हैं। तो यह करियर आपके लिए बेहतर साबित हो सकता हैं। लेकिन आपको इस क्षेत्र में करियर बनाने के लिए कड़ी मेहनत करनी होगी। तभी आप सफल हो सकते हैं।

सॉफ्टवेयर इंजीनियर कैसे बने? Software Engineer Kaise Bane Hindi

मोबाइल , कंप्युटर , लैपटॉप जैसी बहुत सी डिवाइस बिना सॉफ्टवेयर के एक नॉर्मल प्रोडक्ट हैं। इनकी कोई वैल्यू नहीं हैं। इन डिवाइस का हार्डवेयर तैयार होने के बाद इन्हे रन करने के लिए सॉफ्टवेयर की जरूरत होती हैं। जिन्हे बनने का काम सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग के द्वारा किया जाता हैं। सॉफ्टवेयर को बनाने के लिए अलग अलग प्रकार की प्रोग्रामिंग भाषाओ को सीखना पड़ता हैं। उसके बाद सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग कोडिंग की मदद से डिवाइस के लिए सॉफ्टवेयर तैयार करते हैं।

अगर आप कंप्युटर या मोबाइल का इस्तेमाल करते हो तो आपको सॉफ्टवेयर के बारें में अच्छे से पता होगा। कंप्युटर , मोबाइल या किसी भी दूसरे डिवाइस में इस्तेमाल होने वाले सॉफ्टवेयर को सॉफ्टवेयर इंजीनियर के द्वारा ही बनाया जाता हैं। यही नहीं सॉफ्टवेयर से जुड़ी हुई प्रॉबलम को भी सॉफ्टवेयर इंजीनियर के द्वारा ही सही किया जाता हैं।

सॉफ्टवेयर डिवाइस के वो हिस्सा होता हैं। जिसे आप हार्डवेयर की तरह टच नहीं कर सकते हैं। अगर आपको मोबाइल , कंप्युटर , या टेक्नोलॉजी में रुचि हैं तो आप सॉफ्टवेयर इंजीनियर बन सकते हैं लेकिन इसके लिए आपको किसी अच्छी यूनिवर्सिटी से Software Engineering Course करना होगा। इसे भी जरूर पढे :- अगर आपकी लिखन मे रुचि तो आप प्रोफेशनल लेखक बन सकते है

सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनने की योग्यता

सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनने के लिए सबसे पहले आपको अपनी बारहवी की परीक्षा साइंस स्ट्रीम से पास करनी होगी। अगर आपको पहले ही पता हो मुझे सॉफ्टवेयर इंजीनियर या कंप्युटर के क्षेत्र में ही करियर बनाना हैं तो दसवी और बारहवी में कंप्युटर विषय को जोड़ना बिलुकल न भूलें। इससे आपका कंप्युटर विषय का बेस मजबूत होगा जिससे आपको बारहवी के बाद की पढ़ाई करने में आसानी होगी। कम्प्यूटर नेटवर्किंग क्या है। इसमे करियर कैसे बनाये।

बारहवी करने के बाद विधार्थी को सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनने के लिए जेईई मेन, जेईई एडवांस, बिटसेट, एआईईई इत्यादि। मे से कोई एक प्रवेश परीक्षा पास करनी होगी। इन परीक्षाओं में पास होने वाले छात्रों को ही देश के किसी भी कॉलेजों में सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग कोर्स करने का मौका मिलेगा।

इसके अलावा देश में कुछ ऐसे प्राइवेट संस्थान भी हैं जहा से आप शॉर्ट टर्म की डिप्लोमा कोर्स कर सकते हैं। लेकिन इन कोर्स की इतनी वैल्यू नहीं होती जितनी कॉलेज से किये गए कोर्स की होती हैं।

दूसरी स्किल

  • अगर आप प्रो लेवल के सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनाना चाहते हैं तो आपको अपने अंदर कुछ स्किल डेवलप करनी होगी । तभी आप एक सफल सॉफ्टवेयर इंजीनियर बन सकते हो।
  • सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनने के लिए आपकी रुचि कंप्यूटर विषय में होनी चाहिए।
  • आपकी कोडिंग में रुचि होनी चाहिए। अगर आपको कोडिंग करने में बोरियत महसूस होती हैं तो ये फिर ये करियर आपके लिए नहीं हैं।
  • आपको घंटों घंटों कंप्युटर पर अकेले बैठने की आदत होनी चाहिए। अगर आपको इसकी आदत नहीं है तो आपको ये आदत डालनी होगी। वरना इस क्षेत्र में सफल नहीं हो सकते।
  • Software Engineer बनने के लिए अंग्रेजी भाषा पर अच्छी पकड़ होना चाहिए।
  • सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनने के लिए आपको शुरुआत में छोटे होते सॉफ्टवेयर बनाकर अभ्यास करना होगा।
  • रोजाना कोडिंग का अभ्यास करें। आपकी कोडिंग की समझ जितनी बेहतर होती जाएगी आप सॉफ्टवेयर बनाने में उतने ही बेहतर होते जायेगे।
  • सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनने के लिए आपके अंदर पेशेनस होना चाहिए। इसे भी जरूर पढे :- अगर आपकी रुचि कंप्युटर मे है तो बने कंप्युटर प्रोग्रामर

सॉफ्टवेयर इंजीनियर कोर्स Software Engineering Course Hindi

Software Engineer Kaise Bane Hindi
  • बीटेक बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी
  • कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग
  • बीटेक इन इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी
  • बीटेक इन सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग
  • बीएससी इन इनफॉरमेशन टेक्नोलॉजी
  • बीएससी इन सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग
  • बीसीए बैचलर ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन
  • बीएससी बैचलर ऑफ कंप्यूटर साइंस
  • पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कंप्यूटर साइंस

इसे भी पढे :- फिल्म मेकिंग में है रुचि है तो बने वीडियो एडिटर

सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग कोर्स के विषय ( Software Engineering Subjects )

Mathematics For ComputingComputer Architecture
DBMS (Database Management System)Program Design
Computer ProgrammingProfessional Awareness
Academic Skills For ComputingFundamentals Of Hardware
Introduction For ComputingNetworking

सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग के कार्य

  • कोर्स पूरा करने के बाद जब किसी छात्र की कंपनी में जॉब लग जाती हैं तो उसे कंपनी में सॉफ्टवेयर इंजीनियर के तौर के कुछ कार्य करने पड़ते हैं।
  • सॉफ्टवेयर डिजाइन एवं डेवलप करना
  • तैयार किये गए सॉफ्टवेयर को एनलाइज करके उसकी कमी को सुधारना।
  • नए सॉफ्टवेयर तैयार करना
  • सॉफ्टवेयर टेस्ट करना
  • सॉफ्टवेयर में बग्स ढूंढकर ठीक करना
  • सॉफ्टवेयर इंजीनियर कंप्यूटर स्पेशलिस्ट के साथ मिलकर विभिन्न प्रकार के प्रोजेक्ट पर एक साथ काम करते हैं। इसे भी पढे :- सोशल मीडिया की है अच्छी समझ तो बने सोशल मीडिया मैनेजर

जॉब्‍स व करियर

अगर आप किसी अच्छे कॉलेज से सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग कोर्स पूरा करके निकलते हो तो आपके पास काभी जॉब की कमी नहीं होगी। कंप्युटर के क्षेत्र में अच्छे प्रोफेशनल्स की हमेशा डिमांड रहती हैं। आपको प्राइवेट और निजी दोनों प्रकार की कंपनियों में जॉब मिल सकती हैं। ऑनलाइन मीडिया में करियर कैसे बनाये

Software Engineer के लिए देश ही नहीं बल्कि विदेशों में भी रोजगार के भरपूर अवसर रहते हैं। जहा पर आपकी कमाई कई गुना बढ़ जाती हैं। प्राइवेट सेक्टर मे सॉफ्टवेयर इंजीनियर कंपनी, बैंक, स्कूल-कॉलेज, फाइनेंस डिपार्टमेंट इत्यादि में सॉफ्टवेयर डेवलपर, या सॉफ्टवेयर डिजाइनर बनकर अपनी सेवाये दे सकते हैं।

सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग में करियर Software Engineering Career

सॉफ्टवेयर इंजीनियरसॉफ्टवेयर आर्किटेक्ट
चीफ टेक्निकल ऑफिसर सॉफ्टवेयर एक्सपर्ट
सॉफ्टवेयर ट्रेनी डेवलपरसॉफ्टवेयर डेवलपर
साइबर सिक्योरिटी मैनेजरवीडियो गेम डिजाइनर
नेटवर्क सिक्योरिटी इंजीनियरबिग डाटा इंजीनियर
सेल्स मैनेजर

Software Engineering Colleges

  • Indira Gandhi National Open University
  • Netaji Subhas Institute of Technology, Delhi
  • Madras Christian College, Chennai
  • Lovely Professional University
  • Devi Ahilya University, Indore
  • Guru Gobind Singh Indraprastha University, Delhi
  • The Oxford College of Science, Bangalore
  • Nalanda Open University

लेख में आपने क्या सीखा

इस लेख में हमने आपको सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग से जुड़े हुए कोर्स के बारें में विस्तार से जानकारी दी हैं किस प्रकार कोई भी व्यक्ति सॉफ्टवेयर इंजीनियर बन सकता हैं। इस लेख में हमने आपको बताया हैं कि सॉफ्टवेयर इंजीनियर कैसे बनें। Software Engineer Kaise Bane Hindi, सॉफ्टवेयर  इंजीनियरिंग कैसे करें Software Engineering Course Kaise Kare, कंप्यूटर इंजीनियर कैसे बनें Computer Engineer kaise Bane Hindi  इसे भी जरूर पढे : आर्टिफ़िशियल इंटेलिजेंस मे करियर कैसे बनाए ।

उम्मीद करते हैं कि आपको हमारी ये जानकारी पसंद आई होगी। अगर आपको ये जानकारी पसंद आई हैं। हमें कमेंट करके जरूर बताएं इस जानकारी को लेकर अगर आपका किसी प्रकार का कोई सवाल हैं तो आप कमेंट करके जरूर पूछ सकते हैं।

इस जानकारी को दूसरे दोस्तों के साथ शेयर करना बिलकुल न भूलें। ताकि उन्हें भी इस महत्वपूर्ण जानकारी के बारे में पता चल सके। जानकारी को शेयर बिल्कुल फ्री हैं। लेकिन आपके शेयर करने से आप उनकी मदद जरूर कर सकते हैं। आपका सपोर्ट भी हमारे लिए महत्वपूर्ण हैं। धन्यवाद, इसे भी जरूर पढे : ई कॉमर्स मे करियर कैसे बनाए।

सॉफ्टवेयर इंजीनियर करियर से जुड़े हुए कुछ सवाल जवाब

सॉफ्टवेयर इंजीनियर कैसे बनें

सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनने के लिए आपको बारहवी के बाद सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग से जुड़ा हुआ कोई एक कोर्स करना होगा। जिसकी जानकारी लेख में दी गई हैं। उसके बाद ही आप सॉफ्टवेयर इंजीनियर बन सकते हो ।

सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनने में कितना खर्च आएगा।

अगर आप एन्ट्रेंस एग्जाम पास करके किसी सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग कोर्स में दाखिला लेते हो तो आप बहुत कम खर्ची पर यानि कि फ्री बराबर में सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग बन सकते हो लेकिन अगर आप एन्ट्रेंस एग्जाम पास नहीं कर पाते हो तो ऐसे स्तिथि में आपको किसी प्राइवेट कॉलेज में दाखिला लेना होगा। जिसका खर्च कम से कम 3 से 5 लाख रुपये प्रति वर्ष का होगा।

सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग कोर्स की अवधि कितने वर्ष की होती हैं।

सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग से जुड़े हुए एक से अधिक कोर्स है। जिनकी अवधि तीन वर्ष से लेक चार वर्ष तक होती हैं।

सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनने के लिए बारहवी में कितने नंबर होने चाहिए।

सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनने के लिए कम से बारहवी में कम से कम 50 फीसदी अंक होने चाहिए।

क्या बिना एन्ट्रेंस एग्जाम के सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग कोर्स में दाखिला हो सकता हैं।

देश में ऐसे बहुत से प्राइवेट संस्थान जो बिना एन्ट्रेंस एग्जाम के सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग से जुड़े हुए कोर्स करवाते हैं लेकिन उन कॉलेजों की फीस बहुत ज्यादा महंगी होती हैं। कुछ कॉलेजों की फीस सस्ती भी होती हैं लेकिन उन कॉलेजों की ज्यादा वैल्यू नहीं होती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here