Digital Banking Hindi : डिजिटल बैंकिंग क्या है ? इसमें अपना कैरियर कैसे बनाये ?

0
1146

जब से देश में नोट बंदी हुई है। तब से डिजिटल बैंकिंग का स्तर दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है। क्योंकि नोट बंदी के बाद केश मे कमी आई है, इसी के चलते लोगो ने डिजिटल बैंकिंग को काफी बढ़ावा दिया है, ताकि उन्हें किसी भी प्रकार के पैसों के लेन देन में दिक्कत न हो और वे आसानी से अपनी जरूरतो को  पूरा कर सके। इसलिए देश के ज्यादा से ज्यादा यूज़र ने डिजिटल बैंकिंग Digital Banking Hindi को सीखा और उसको बढ़ावा दिया।

आपकी जानकारी के लिए बता दे कोविड 19 ने वह काम कर दिया है जो  पिछले चार वर्ष पहले नोट बंदी में नहीं हो पाया था।

आज हम आपको इस लेख में बताने वाले है कि डिजिटल बैंकिंग क्या है Digital Banking Kya Hai , डिजिटल बैंकिंग के क्या क्या फायदे है। इसके अलावा हम आपको इस लेख में यह भी बतायंगे कि आप डिजिटल बैंकिंग के क्षेत्र में करियर किस प्रकार बना सकते है Digital Banking Me Career Kaise Banaye। इसलिए अगर आप भी डिजिटल बैंकिंग के क्षेत्र अपना करियर बनाना चाहते है तो इस लेख को पूरा पढ़े।

जब से दुनिया में कोविड 19 का समय चल रहा है। तब से डिजिटल पेमेंट में काफी बढ़ोत्तरी हुई है। कोविड 19 के बाद करोना वायरस फैलने से रोकने के लिए आरबीआई ने भी सभी बेकिंग यूजर्स को नोटिफिकेशन जारी करते हुए कहा है,, कि जितना ज्यादा हो सके डिजिटल पेमेंट और ऑनलाइन पेमेंट का इस्तेमाल करे।

2016 में देश के कई बड़े बैंकों ने अपनी डिजिटल बैंकिंग और ऑनलाइन पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए UPI यूपीआई यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस की सुविधा शुरू की थी। इसलिए पिछले कई वर्षो से डिजिटल लेन देन का स्तर काफी बढ़ चुका है।

डिजिटल बैंकिंग Digital Banking Hindi

अगर हम डिजिटल बेकिंग Digital Banking को आसान भाषा में कहे तो डिजिटल बैंकिंग हमारे ट्रेडिशनल  बैंकिंग का भी एक ही प्रकार है । जो लोगो को अपनी सेवाएं प्रदान करती है। बस डिजिटल बैंकिंग और बाकि बैंकों में यह फर्क होता है, कि डिजिटल बैंकिंग की कोई  फिजिकल ब्रांच नहीं होती है | यह पूरी तरह से ऑनलाइन होती है। जिसका इस्तेमाल आप इंटरनेट के माध्यम से ही कर सकते है।

इस तकनीकी की मदद से बैंकों को ही ग्राहकों तक पहुंचाया जाता है | ऑनलाइन अकाउंट खुलवाने से लेकर लेन देन करने तक का इस्तेमाल डिजिटल बैंकिंग कहलाता है। डिजिटल बैंकिंग में इंटरनेट बैंकिंग Internet Banking , मोबाइल बैंकिंग Mobile Banking , यूपीआई UPI   एटीएम ATM , इत्यादि शामिल है। Digital Banking डिजिटल बैंकिंग में आपका बैंक हमेशा आपके साथ रहता है | आप जब चाहे अपनी मर्जी से इसका इस्तेमाल कर सकते है, और डिजिटल बैंकिंग की सभी सेवाओं का लाभ उठा सकते है।

डिजिटल बैंकिंग के आंकड़े 

वैसे तो देश में डिजिटल बैंकिंग Digital Banking की शुरुआत नोट बंदी के समय ही हो गई थी। लेकिन कोविड 19 ने तो इसे  पूरी तरह से बदल कर रख दिया है, क्योंकि ज्यादातर लोग ने घरो से निकलना बंद कर रखा है, इसलिए वे अपने पैसो के लेंन देन करने के लिए डिजिटल बैंकिंग का इस्तेमाल ही कर रहे है।

एक सर्वे के मुताबिक कोविड 19 के समय तीन चौथाई यूजर्स डिजिटल बैंकिंग का इस्तेमाल कर रहे है। इसलिए 78 प्रतिशत अगले पांच महीनों में डिजिटल पेमेंट को जारी रखना चाहते है।

देश के सबसे बड़े बैंक आरबीआई ने पिछले वर्ष ये जानकरी दी थी, कि उसका लक्ष्य 2021 तक डिजिटल लेन देन को दस प्रतिशत से बढ़कर 15 प्रतिशत तक का है। इसके अलावा सरकार का डिजिटल लेन देन में रोजना एक अरब रूपये का लक्ष्य है , ताकि ज्यादा से ज्यादा स्मर्टफ़ोन यूजर्स एक क्लिक में ही लेन देन कर सके।

कोर्स एवं योग्यता  Course and Qualification

अगर आप डिजिटल बैंकिंग Digital Banking के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते है ,तो आपको अपनी बारहवीं की परीक्षा कॉमर्स विषय से पास करना अनिवार्य है। उसके बाद आप बैंकिंग और फाइनेंस से संबंधित कोई भी  डिग्री , डिप्लोमा या पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स कर सकते है।

इसे पढे :- मनी लेंडिंग मोबाइल ऐप्स लोन से कतई लोन न लें |

इन कोर्स के दौरान आपको डिजिटल बैंकिंग के तौर पर स्कोर बेस्ड लेंडिंग, ई-केवासी KYC , डिजिटल पेमेंट्स Digital Payments, कोलेबोरेट ऑफिस, वर्चुअल मीटिंग्स, एपीआई API , बैंकिग क्रिप्टो करेन्सी , साइबर फ्रॉड्स , एआई , इत्यादि जैसे विषय आपको पढ़ाये जाते है |  

इसे पढे :- डीप लर्निंग तकनीक क्या है |

डिजिटल बैंकिंग का सारा कार्य टेक्नोलॉजी से जुड़ा हुआ है। इसलिए आपको तकनीक का ज्ञान होना भी बेहद जरूरी है। इसके अलावा आपको कम्युनिकेशन स्किल्स , इंटरपर्सनल स्किल्स, सेल्स प्रोसेस, की अच्छी समझ होनी चाहिए, ताकि आप अपने ग्राहकों को प्रभावित कर सके। लोगों को डिजिटल बैंकिंग के प्रति ज्यादा से ज्यादा जागरूक कर सके और उनकी डिजिटल बैंकिंग संबंधी समस्याओ का समाधान कर सके।

रोजगार के अवसर Job Opportunities

आज के वर्तमान समय में ज्यादातर यूजर्स ऑनलाइन बैंकिंग का इस्तेमाल कर रहे है। जिसके कारण देश के बड़े से बड़े बैंक अपने यूजर्स को ऑनलाइन बैंकिंग की सुविधा दे रहे है | ताकि उन्हें किसी भी प्रकार की कोई समस्या न हो, जैसे कि एसबीआई SBI , एचडीएफसी बैंक HDFC, कोटक मेहन्द्रा बैंक, एक्सिस बैंक, आईसीआईसीआई बैंक ICICI Bank, पीएनबी बैंक PNB Bank इत्यादि | 

इसके बारे मे भी जानिए :- ई लर्निंग फ्रॉड से कैसे बचे ?

यही नहीं मार्किट कमर्शियल बैंक के अलावा  कुछ ऑनलाइन बैंकिंग एक प्लेटफॉर्म भी कार्य कर रहे है जैसे कि फोन पे Phone Pe , पेटी-एम Paytm, गूगल पे Google Pay , अमेजॉन पे Amazon Pay इत्यादि जिनमे आप ऑनलाइन बैंकिंग Online Banking, डिजिटल पेमेंट Digital Payment, यूपीआई UPI , डिजिटल वॉले Digital Wallet जैसे सुविधाओं का लाभ उठा सकते है।

इसे भी पढे : – सिम स्वाइप फ्रॉड क्या है |

ऐसे आपके पास इन कम्पनियो में जॉब के अच्छे अवसर मौजूद रहते है। आप इनमे से किसी भी कम्पनी में अपने पसंद के पद की जॉब आसानी से ढूंढ सकते है। अगर आपके पास बैंक सेक्टर की अच्छी जानकरी है तो आपको जॉब आसानी से मिल जाएगी।

वेतन  Salary

अगर आप डिजिटल बैंकिंग में अपना करियर बनाते हो , तो आपको शुरूआती दौर में ही 15 से 20 हजार रूपये तक की जॉब आसानी से मिल सकती है। आगे चलकर जब आपका अनुभव 5 से 7 वर्ष का हो जाता है। तब आपकी इनकम 50 से 60 हजार तक पहुंच सकती है। इस क्षेत्र में आपके पास शुरुआत से ही अलग से इंसेंटिव  कमाने का मौका भी होता है। जिससे आपकी इनकम में बढ़ोत्तरी हो जाती है।

इसे भी जरूर पढे :- कपल चैलेंज के अनलाइन फ्रॉड का तरीका है |

इस लेख में हमने आपको भविष्य के उभरते हुए करियर विकल्प डिजिटल बैंकिंग के बारे में संपूर्ण जानकरी दी है कि डिजिटल बैंकिंग क्या है Digital Banking Kya Hai और आप क्षेत्र में अपना करियर किस प्रकार बना सकते है, ताकि आपको अपना करियर चुनने में किसी भी प्रकार की कोई समस्या न हो।

अगर आपको यह जानकारी पसंद आयी है, तो आप अपनी राय हमे कमेंट बॉक्स में बता सकते है। इस जानकारी को दुसरो के साथ भी शेयर करे ताकि उन्हें भी बैंकिंग से जुड़े उभरते हुए करियर विकल्प के बारे में पता चल सके । धन्यवाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here