Online Froud Se Kaise Bache : ऑनलाइन धोखाधड़ी से बचने के लिए इन पांच बातो का ध्यान जरूर रखे ?

online froud se kaise bache
online froud se kaise bache

जब से दुनिया में इंटरनेट का इस्तेमाल करने वाले यूजर्स बढ़े है, उसके साथ ही ऑनलाइन धोखाधड़ी करने के मामले भी तेजी से बढ़ते जा रहे है। ऐसे में जरूरी है कि आपको ऑनलाइन धोखाधड़ी से बचने के तरीको के बारे में जानना आवश्यक है। अगर आप एक इंटरनेट यूजर्स है, तो आपको इन तरीको के बारे में जरूर पता होना चाहिए, ताकि आपके साथ कभी भी इंटरनेट पर किसी प्रकार की धोखाधड़ी न हो।

अगर आप एक एक इंटरनेट यूजर्स है। आप ऑनलाइन धोखाधड़ी से बचने के तरीको के बारे में नहीं जानते है ,तो यह लेख आपके लिए महत्वपूर्ण है। इस लेख में हम आपको बताने वाले है की ऑनलाइन फ्रॉड से कैसे बचे Online Fraud Se Kaise Bache  ? इंटरनेट का यूज कैसे करें ? Internet Ka Use Kaise Kare  ? इत्यादि 

ऑनलाइन फ्रॉड से कैसे बचे Online Fraud Se Kaise Bache

हर अकाउंट का अलग पासवर्ड रखें (Keep a Different Password for Each Account)

आज के समय में ज्यादातर इंटरनेट यूजर्स कई सारे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करते हैं। इसलिए उन्हें प्रत्येक अकाउंट के अलग अलग पासवर्ड याद रखने काफी मुश्किल होते है। इसी परेशानी के चलते ज्यादातर लोग सभी अकाउंट के एक ही पासवर्ड बना लेते हैं। जोकि सही निर्णय नहीं है उन्हें ऐसा बिलकुल नहीं करना चाहिए।

अगर हैकर्स के पास आपका एक भी पासवर्ड चला जाता है, तो ऐसे में आपके सभी अकाउंट पर हैक होने खतरा मंडराने लगता है। इसलिए ध्यान रखे। 

हमेशा हर अकाउंट के लिए अलग-अलग पासवर्ड बनाएं। ऐसा करने से आपका निजी डाटा सुरक्षित रहेगा। अगर आपने सभी अकाउंट पहले से बना रखे है , सभी अकाउंट के पासवर्ड समान है, तो उन सभी अकाउंट के पासवर्ड बदल ले जोकि आपके लिए बेहतर होगा।

वेब साइट का URL जरूर चेक करें (Must check the Web Site URL)

आप जिस भी सर्विस की वेबसाइट जैसे कि बिल पे, ऑनलाइन शॉपिंग , बैंक सर्विस इत्यादि  को ओपन करने जा रहे है, तो पहले हमेशा उस वेबसाइट के यूआरएल को चेक कर करें।

वेबसाइट हमेशा https से शुरू होनी चाहिए। इसका मतलब यह होता है कि आप  जिस वेबसाइट को आप ओपन करने जा रहे हो ये एक सिक्योर वेबसाइट है।

फ्री वाई-फाई का उपयोग करने से बचें (Avoid Using free Wi-Fi)

अगर आप फ्री वाई का इस्तेमाल करने से बचते है, तो आपका निजी डाटा पूरी तरह से सुरक्षित रहेगा। इस तरह आप  हैकर्स का शिकार  होने से बच सकते है।

अपनी सभी फाइल का बैकअप जरूर बना लें (Make sure to Backup all your Files)

आप अपने मोबाइल या कंप्यूटर में जो भी फाइल सेव करते है। हमेशा समय समय पर डाटा का बैकअप लेते रहे। अगर आप ऐसा करते है, तो आप रेनसमवेयर अटैक से बच सकते है। आप अपने जरूरी डॉक्यूमेंट्स का हमेशा एक्सटर्नल ड्राइव में बैक-अप रखे ताकि जरूरत पड़ने पर आप  इनका इस्तेमाल कर सके। इसे भी जरूर पढे :- कपल चैलेंज के अनलाइन फ्रॉड का तरीका है

भूलकर भी किसी के साथ बैंकिंग डिटेल शेयर न करें (Don’t Share Banking Details with Anyone)

अगर कोई भी अनजान  परसन आपके पास कॉल या एस एम एस करके आपसे बैंकिंग या किसी भी प्रकार की निजी जानकारी मांगता है, तो उसके साथ किसी भी प्रकार की जानकारी शेयर न करे।

चाहे वो व्यक्ति स्वयं को बैंक अधिकारी या बैंक कर्मचारी होने का दावा ही क्यों न करे। इसे भी जरूर पढे :- ऐसे कीवर्ड्स जिन्हे गूगल पर भूलकर भी न सर्च करे

ऐप डाउनलोड करने से पहले चेक करें। Please Check before Downloading the App.

अगर आप स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते हैं तो कई बार आप उन ऐप से कमाई के लालच में आकर गूगल प्ले स्टोर से बहुत ऐसी एप्लीकेशन इंस्टॉल कर लेते हैं। जो फेक होती हैं। जो अपने यूजर्स का डाटा चुराकर उनके साथ फोर्ड करती हैं।

इसलिए गूगल प्ले स्टोर से किसी भी ऐप को मोबाइल में इंस्टॉल करने से पहले एक एक बार उस ऐप के रिव्यू और डोनलोड यूजर्स की संख्या को देखे। अगर ऐप के रिव्यू सही हैं , और डाउनलोड यूजर्स की संख्या मिलियन में हैं। तो फिर ऐप सही है तभी इतने लोग ऐप का इस्तेमाल कर रहे हैं। इसे पढे :- मनी लेंडिंग मोबाइल ऐप्स लोन से कतई लोन न लें ।

डायरेक्ट गूगल से ऐप काफी सोच समझकर करें क्योंकि गूगल पर डायरेक्ट ऐप डाउनलोड करने से फ्रॉड होने की संभावना काफी बढ़ जाती हैं।

सोशल मीडिया पर फेक फ्रेंड से बचें? Avoid Fake Friends on Social Media?

अगर सोशल मीडिया पर कोई अनजान लड़की या लड़का आपसे काफी क्लोज हो रहा हैं आपको लगातार मेसेज कर रहा है। आपको किसी प्रकार का कोई लालच दे रहा हैं। तो आपको अलर्ट हो जाना चाहिए। क्योंकि आज के समय में दुनिया में फ्री में कुछ नहीं मिलता। इसे भी पढे :- ऑनलाइन शॉपिंग सुरक्षा टिप्स जिनके बारे मे आपको जरूर जानना चाहिए

इसलिए आप सोशल मीडिया पर अनजान लोगों से दोस्तों करने से बचें चाहे वो आपको कितना भी यकीन दिलाएं। अगर आप लड़के हैं। तो सोशल मीडिया पर कोई लड़की आपको अपने जिस्म का लालच देकर अपने जाल में फंसा सकती हैं।

इस जल में वो नए लड़के फंस जाते हैं जो सोशल मीडिया की दुनिया में नए हैं। इसलिए माता पिता को इसके बारे में बच्चों को समझाना चाहिए।

अनजान लिंक पर क्लिक ना करें Do’t Click on Unknown Links

ऑनलाइन फ्रॉड करने वाले स्कैमर यूजर्स को अपने जाल में फंसाने के लिए एसएमएस , ईमेल के जरिए अलग अलग प्रकार के ऑफर्स प्रदान करते हैं। फ्री गिफ्ट , फ्री कैशबैक , इत्यादि लुभावने ऑफर देकर मैसेज में भेजे गए लिंक पर क्लिक करवाते है। इसे भी पढे :- साइबर लॉ एक्सपर्ट्स कैसे बने

जिसके कारण अनजान लोग उस लिंक पर क्लिक करके उनके जाल में फंस जाते हैं। इसलिए अगर आपके मोबाइल पर भी किसी प्रकार के लुभावने मेसेज ,ईमेल आ रहे हैं। तो इसमें दिए गए लिंक पर क्लिक करने से बचें।

कस्टमर केयर फ्रॉड से कैसे बचें। How to Avoid Customer Care Fraud.

गूगल पर सभी चीजों के बारे में सर्च करते हुए हमारी एक आदत बन चुकी हैं। की अगर हमें किसी सर्विस या किसी भी प्रोडक्ट से संबंधित कस्टमर केयर का नंबर की जरूरत होती हैं। तो हम डायरेक्ट गूगल पर सर्च करते हैं। जिसके कारण हमारी स्क्रीन पर कस्टमर केयर नंबर अनेकों वेबसाइट दिखाई देती हैं। इसे भी जरूर पढे : साइबर सेक्स या साइबर बुलिग क्या है। जिसके कारण युवाओ की जिंदगी बर्बाद हो रही है।

हमें लगता हैं। कि ये सभी नंबर सही हैं। यही हम फंस जाते हैं। इसलिए आँख बंद करके गूगल पर दिए हुए कस्टमर केयर के नंबर पर भरोसा न करें। उन्ही कस्टमर केयर नंबर पर भरोसा करें जो उस सर्विस की ऑफिशियल वेबसाइट पर दिए गए हो।

एक रिपोर्ट के अनुसार देश में सबसे ज्यादा फ्रॉड गूगल पर कस्टमर केयर नंबर सर्च करने की वजह से ही होते हैं।

कुकीज को डिलीट करना न भूलें Don’t Forget to Delete Cookies

जब आप मोबाइल या लैपटॉप में इंटरनेट इस्तेमाल करते हैं। तो ब्राउजिंग करते समय आपकी सर्चिंग फाइले कुकीज के रूप में गूगल या दूसरे सर्च इंजन के बैंक में सेव होती रहती हैं।

अगर आप मोबाइल या लैपटॉप से ऑनलाइन पेमेंट करते हैं तो आपके लिए कुकीज डिलीट करना बेहद जरूरी हो जाता हैं। वरना कोई की भी हैकर आपके मोबाइल को हैक करके आपकी कुकीज को चुराकर आपके साथ फ्रॉड कर सकता हैं। इसे भी जरूर पढे : हर किसी की निजी जानकारी निकालने वाला पेगासस स्पाइवेयर क्या है।

ओटीपी किसी के साथ शेयर न करें Do not Share OTP with Anyone

अगर आपको कोई पर्सन आपके पास कॉल करके आपके मोबाइल में आया ओटीपी पूछता हैं तो उसे बिल्कुल भी ओटीपी न दें। आमतौर पर इस प्रकार के फ्रॉड करने वाले पर्सन यूजर्स के पास कॉल करके उन्हें इस तरह से डरा देते हैं। कि हम बैंक से बोल रहे हैं। अगर आपने ओटीपी नहीं बताया तो कि आपका अकाउंट बंद हो जायेगा। इसे भी जरूर पढे : बच्चों को सेक्स एजुकेशन देना क्यों जरूरी है।

आपका एटीएम कार्ड बंद हो जाएगा। आपका क्रेडिट कार्ड बंद हो जाएगा। इत्यादि। जिससे यूजर्स डर के मारे उन्हे मोबाइल में आया ओटीपी बताकर फ्रॉड का शिकार हो जाते हैं।

इसलिए अगर आपके पास कभी भी इस प्रकार का कॉल आए तो उस पर बिल्कुल भी भरोसा न करें। उसे ओटीपी न बताए। कोई भी बैंक कर्मी कभी भी आपको इस प्रकार कॉल नहीं करेगा।

लेख मे आपने क्या सीखा

ऑनलाइन फ्रॉड का शिकार सबसे ज्यादा भारतीय हो रहे हैं इसका कारण हैं कि हमें आज भी साइबर सुरक्षा के बारें में सही जानकारी नहीं हैं , ज्यादातर भारतीय तो अभी भी इससे अनजान है। वे न ही इसके बारें में सीखना चाहते हैं। जिसके कारण जानकारी न होने की वजह हम ऑनलाइन फ्रॉड का शिकार जल्दी हो जाते हैं।

दोस्तों इस लेख में हमने आपको ऑनलाइन फ्रॉड से बचने के तरीकों के बारे में बताया है कि किस प्रकार से आप इस तरह के फ्रॉड से बच सकते है इस लेख में हमने आप को बताया कि Online Fraud Se Kaise Bache, Internet Ka Use Kaise Kare ? Cyber Crime se Kaise Bache Hindi इत्यादि

अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी है तो आप अपनी राय हमें कमेंट बॉक्स में बता सकते है। इस जानकारी को दुसरो के साथ भी शेयर करे ताकि उन्हें भी इस प्रकार के फ्रॉड से बचने के तरीकों के बारे में पता चल सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here