Teleprompter Kya Hai : टेलीप्रॉम्पटर क्या होता है। पीएम नरेंद्र मोदी की वजह से ये चर्चा मे क्यों आया

वर्तमान समय में पीएम नरेंद्र मोदी जी के वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम के एक सम्बोधन के कारण एक शब्द काफी फेमस है। टेलीप्रॉम्प्टर (Teleprompter)

हर कोई इस के बारे में जानना चाहता है कि आखिर ये होता है। अगर आप भी इसके बारे में नहीं जानते है तो इस लेख को पूरा पढे। इस लेख मे हम आपको (Teleprompter) के बारे में विस्तार से जानकारी देने वाले है। इस लेख मे हम बताने वाले है कि टेलीप्रॉम्पटर क्या होता है । teleprompter kya hai hindi, टेलीप्रॉम्प्टर का इस्तेमाल किसलिए किया जाता है। teleprompter ka use kaise kare इत्यादि।

टेलीप्रॉम्प्टर के चर्चा मे आने की सबसे बड़ी वजह ये रही कि वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम के दावोस समिट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी टेलीप्रॉम्प्टर की मदद से अपना भाषण दे रहे थे। लेकिन भाषण के बीच मे ही टेलीप्रॉम्प्टर मे कुछ टेक्निकल दिक्कत आ गई जिसके कारण प्रधानमंत्री को लगभग 56 सेकेंड तक अपना भाषण बीच मे ही रोकना पड़ा। उसके बाद से ही ये चर्चा का विषय बना हुआ है।

टेलीप्रॉम्पटर की खोज

टेलीप्रॉन्पटर की खोज ‘Fred Barton Junior, Hubert Schlafly और Irving Berlin kahn ने वर्ष 1950 के दौरान की थी।

टेलीप्रॉम्पटर क्या होता है ?

टेलीप्रॉम्प्टर को प्रॉम्प्टर या ऑटोक्यू के नाम से भी जानते हैं। ये के इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस होती है। जिसकी मदद से आप कोई भी स्क्रिप्ट , पेज , बुक एक डिजिटल स्क्रीन के जरिए आसानी से पढ़ सकते है।

आसान भाषा मे कहे तो टेलीप्रॉम्प्टर एक ऐसी स्क्रीन वाली डिवाइस होती है। जिस पर कोई भी व्यक्ति कही पर भी बोलते समय बिना रुके स्क्रिप्ट को देखकर पढ़ सकता है।

अगर आप न्यूज देखते है तो नोटिस भी किया होगा कि न्यूज एंकर केमरे के सामने देखकर नॉन स्टॉप न्यूज पढ़ते रहते है। वो भी बिना किसी पेपर स्क्रिप्ट या लैपटॉप की स्क्रीन पर देखे बिना बहुत से लोगों को यही लगता है कि ये पहले न्यूज को याद करते होंगे।

उसके बाद बिना देखे न्यूज पढ़ते होंगे। लेकिन ऐसा नहीं है। इनके सामने केमेरे के नीचे एक टेलीप्रॉम्प्टर लगा होता है। जिसमे किताब की तरह न्यूज लिखी हुई होती है वे बस उसी को देखकर नॉन स्टॉप न्यूज पढ़ते है।

टेक्स्ट की स्पीड कितनी होगी इसे कंट्रोल करने के लिए न्यूज रीडर के हाथ मे एक छोटा सा रिमोट होता है। जिसकी मदद से वे स्पीड को अपने अनुसार एडजस्ट कर सकते है।

मार्केट ने कई प्रकार के टेलीप्रॉम्प्टर मौजूद है जिसमे हाथ से कंट्रोल करने से लेकर पाँव तक कंट्रोल करने के ऑप्शन तक मौजूद है। टेलीप्रॉम्प्टर का सबसे ज्यादा इस्तेमाल मीडिया इंडस्ट्री , नेताओं के भाषण , फिल्म इंडस्ट्री में किया जाता है।

टेलीप्रॉम्प्टर कैसे काम करता है ?

टेलीप्रॉम्पटर एक एलईडी की तरह स्क्रीन इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस होती है। जिसमे रिफ्लेक्शन मिरर के जरिए टेक्स्ट दिखाई देते है ।

टेलीप्रॉम्पटर में दो बीम-स्प्लिटर ग्लास होते हैं। प्रत्येक ग्लास को 45 डिग्री कोण पर एक छोटे स्टैंड पर रखा जाता है। जिसमे मॉनिटर की मदद से टेक्स्ट को ग्लास पर दिखाया जाता है । कोई भी दूर बैठा रीडर उस टेक्स्ट को आसानी से पढ़ सकता है।

ग्लास के निचले हिस्से पर एक फ्लैट एलसीडी मॉनिटर लगा होता है। जिसका मुंह छत की और करके रखा जाता है। जो एक साथ लगभग 56 से 72 पीटी फॉन्ट में शब्दों शब्दों को स्क्रीन पर दिखाता है। इसके पीछे की और कैमरा लगा होता है। इसे पढे :- डीप लर्निंग तकनीक क्या है |

टेलीप्रॉम्पटर और कमरे के पीछे एक कंट्रोलर होता है । जो टेलीप्रॉम्पटर पर दिखाए जाने वाले टेक्स्ट की स्पीड को कंट्रोल करता है। यानि कि जैसे जैसे रीडर टेक्स्ट को पढ़ता जाता है। कंट्रोलर उस टेक्स्ट को स्क्रॉल करके आगे बढ़ाता रहता है। लेकिन ज्यादातर न्यूज एंकर टेक्स्ट की स्पीड को खुद ही कंट्रोल करते है स्पीड को कंट्रोल करने के लिए उनके हाथ मे एक छोटा सा रिमोट होता है। जबकि नेता भाषण के दौरान कंट्रोलर की मदद लेते है।

teleprompter kya hai hindi ultimate guider

टेलीप्रॉम्पटर कितने प्रकार के होते हैं

प्रेसिडेंशियल टेलीप्रॉम्पटर

इस टेलीप्रॉम्पटर का इस्तेमाल ज्यादातर राष्ट्रपति के भाषण के दौरान किया जाता है। इसमें एक स्टैंड पर एक ग्लास स्क्रीन होती है। जबकि मॉनिटर को नीचे रखा जाता है। मॉनिटर को प्रतिबिंबित करने के लिए उसके ऊपर स्क्रीन ग्लास को झुकाया जाता है।

प्रेसिडेंशियल टेलीप्रॉम्पटर को स्पीकर के सामने चारों तरफ लगाया जाता है ताकि स्पीकर जिधर भी देखे उसे बोलने के लिए टेक्स्ट दिखाई दे।

कैमरा माउंटेड टेलीप्रॉम्पटर

कैमरा माउंटेड टेलीप्रॉम्पटर मे ग्लास स्क्रीन के पीछे एक केमर लगा होता है। इसमे स्पीकर केमरे की तरह देखकर टेक्स्ट को पढ़ता है।

इस टेलीप्रॉम्पटर का इस्तेमाल ज्यादातर न्यूज एंकर, बिजनेस ऑफिसर , टीचर इत्यादि अपने भाषण के दौरान करते है। सभी न्यूज़ स्टूडियो में इसका इस्तेमाल किया जाता है। इसे भी पढे :- ई प्लेन तकनीक क्या है

स्टैंड टेलीप्रॉम्पटर

ये टेलीप्रॉम्पटर प्रेसिडेंशियल टेलीप्रॉम्पटर के समान होते है। इसका सबसे ज्यादा इस्तेमाल फिल्म इंडस्ट्री में डायलॉग बोलने के लिए किया जाता है।

पीएम के टेलीप्रॉम्पटर में क्या खास है ?

प्रधानमंत्री के द्वारा इस्तेमाल होने वाला टेलीप्रॉम्पटर आम टेलीप्रॉम्पटर से काफी अलग होता है। जिसका इस्तेमाल पीएम अपना भाषण के दौरान करते है। ये पीएम के सामने दाये और बाये लगे होते है। जिस पर पीएम अपना भाषण देखकर पढ़ते है।

जैसे जैसे पीएम अपना भाषण पढ़ते जाते है। पीछे से कंट्रोलर उस टेक्स्ट को आगे बढ़ाता जाता है। बहुत से लोगों को लगता है कि पीएम ये सभी भाषण अपने दिमाग से बोल रहे है। इसे भी जरूर पढे :- इलेक्ट्रिक वाहन तकनीक क्या है ?

ये देखने मे पीछे से कांच के जैसे दिखाई देते है। लेकिन जिस और से ये पीएम की तरफ होते है। उस पर टेक्स्ट चलते रहते है। इस टेलीप्रॉम्पटर को कॉन्फ्रेंस टेलीप्रॉम्पटर भी कहा जाता है। इसमें एक एलसीडी मॉनिटर लगा होता है। जिसका फोकस ऊपर की और होता है। इसमे प्रजेंटर के आस-पास ग्लास लगे होते है जिन्हे इस तरह से सेट किया जाता है। कि एलसीडी मॉनिटर पर जो भी टेक्सट चल रहे है वे ग्लास पर रिफ्लेट होकर स्पीकर को दिखाई देते है।

teleprompter kya hai hindi ultimate guider
teleprompter kya hai hindi ultimate guider

बराक ओबामा के समय हाईलाइट हुए टेलीप्रॉम्पटर

टेलीप्रॉम्पटर को सबसे ज्यादा फेमस अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने किया था। अपने भाषणों मे ज्यादातर फेक्ट फिगर का इस्तेमाल करते थे। जिसके कारण लोगों को लगता था कि ओबामा इतनी अच्छी स्पीच कैसे देते है।

लेकिन लोगों को बाढ़ मे पता चला कि ओबामा अपने भाषणों मे टेलीप्रॉम्पटर का इस्तेमाल किया करते थे। उसके बाद से अमेरिका के सभी राष्ट्रपति टेलीप्रॉम्पटर का इस्तेमाल करते आ रहे है। इसे भी पढे :- 5 जी टेक्नोलॉजी क्या है ?

टेलीप्रॉम्प्टर का सबसे पहले उपयोग

टेलीप्रॉम्प्टर का इस्तेमाल सबसे पहले अमेरिका में 1948 में किया गया था। शुरुआत में जब इसका इस्तेमाल हुआ तब हाफ सूटकेस साइज की डिवाइस के ऊपर प्रिंटेड पेपर रोल के जरिए स्पीकर इसे पढ़ते थे। उसके बाद समय बदलता गया। टेक्नोलॉजी बदली तो इसकी जगह स्क्रीन ग्लास ने ले ली। 1952 में इसका इस्तेमाल अमेरिकी अध्यक्ष ने अपने भाषण के दौरान किया था। इसे भी जरूर पढे : क्वांटम टेक्नोलॉजी क्या है ?

टेलीप्रॉम्प्टर की कीमत?

देश मे अच्छे टेलीप्रॉम्प्टर की कीमत एक से दो लाख रुपए से शुरू होती है। जो अधिकतम 20 से 25 लाख रुपये तक हो सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here