How to Buy New Car : नई कार खरीदने से पहले इन 10 जरूरी बातों को जान लें , वरना हो सकता है, नुकसान

How to Buy New Car ultimate guider
How to Buy New Car ultimate guider

ज्यादातर लोग फेस्टिवल सीजन में ही कार खरीदते हैं। फेस्टिवल सीजन मे कंपनिया अपनी सेल बढ़ाने के लिए कस्टमर को अलग अलग प्रकार के डिस्काउंट ऑफर्स प्रदान करती है। ऐसे में अगर आप भी नई कार खरीदने का प्लान बना रहे है तो आपको नई कार खरीदते समय हमेशा कुछ बातों का जरूर ध्यान रखना होगा।

ताकि कार कार खरीदते समय आपको ज्यादा परेशानी न हो। इस लेख मे हम आपको नई कार खरीदने से जुड़े हुए कुछ टिप्स के बारे मे जानकारी देने वाले है इसलिए लेख को पूरा पढ़ें। लेख में हम आपको बताने वाले हैं कि नई कार कैसे खरीदे New Car Kaise Kharide, 

कार कंपनी कौन सी चुनें

अगर आप कार खरीदने का मन बना चुके है तो सबसे पहले आपको यह तय करना होगा कि आप किस कंपनी का कौन का मॉडल खरीदना चाहते है। अगर आप दूसरे की कार देखकर तय नहीं कर पा रहे है कि मे कौन सी कार खरीदें। मार्केट में हर साल नए नए मॉडल की कार आती रहती है। ऐसे में आपको कौन सी कार खरीदनी है। इसका निर्णय सोच समझ कर ले।

क्योंकि आम आदमी प्रत्येक वर्ष कार नहीं बदल सकता है। अगर आप मध्यम वर्ग से है तो ऐसा मॉडल ले। जो अगले 5 से 10 वर्ष तक भी सही लगे। मारुति भारत में सबसे ज्यादा कार बेचने वाली कंपनी है। उसके बाद हुंडई फिर टाटा उसके बाद बाकी बची हुई कंपनियों का नंबर आता है। इसका मतलब यह बिल्कुल नहीं है कि इन तीनों कंपनियों के अलावा बाकी कंपनियों की कार बेकार है। वो सब खरीदारों की सोच पर निर्भर रहता है। इसके लिए आप कार खरीदने से पहले रिसर्च कर ले।

आपका बजट क्या है?

आप किस कंपनी की कार का कौन सा मॉडल खरीदने जा रहे है। ये डिसाइड करने से पहले आपको देखना होगा कि आपका बजट कितना है। अपना बजट तय करने के बाद ही आप उस बजट मे आने वाली कारों की कीमते और फीचर्स चेक करे।

जो कीमत आप इंटरनेट पर देखते हो शोरूम मे जाने के बाद उसी कार की कीमत और भी अधिक होती है। क्योंकि उसमे अलग अलग प्रकार के चार्जेस जोड़े जाते हैं। जो जोड़ने के बाद पूरी कार की कीमत का 10-20 फीसदी तक पहुंच जाती है।

रजिस्ट्रेशन फीस, रोड टैक्स, लॉजिस्टिक्स और हैंडलिंग फीस इत्यादि एक्स्ट्रा चार्जेस का हिस्सा है। जो नई कार लेने के बाद हमेशा कार की कीमत के साथ जोड़ा जाता है।

ऐसे में अगर आप कार ईएमआई पर लेने की सोच रहे है तब ये चार्जेस बहुत मायने रखते है। ऐसे मे आप ईएमआई पर उसी कार को खरीदे जिसकी ईएमआई आप समय से भर सकते हो।

आपकी ईएमआई आपकी सैलरी से तीस फीसदी से ज्यादा नहीं होनी चाहिए यानि कि अगर आपकी सैलरी आपकी सैलरी 50,000 रुपए है तो आपकी कार की ईएमआई 15 हजार से ज्यादा न हो वरना आपका बजट खराब हो सकता हैं

कार खरीदने का उदेश्य क्या है

हर चीज खरीदने के कोई न कोई मकसद जरूर होता है। इसलिए अगर आप कार खरीदने की सोच रहे है तो इसके पीछे भी कोई न कोई उद्देश्य जरूर होगा कि आप कार किस उद्देश्य के लिए खरीद रहे है। क्या आप कार फैमली के लिए खरीद रहे है। ट्रैवल बुकिंग के लिए या फिर किसी दूसरे उद्देश्य के लिए यानि कि आपको पता होना आवश्यक है।

New Car Kaise Kharide,
New Car Kaise Kharide,

मार्केट में अलग अलग उद्देश्य के लिए अलग अलग प्रकार की कारे आते हैं। अगर आप फॅमिली के लिए कार खरीद रहे है तो हैचबैक आपके लिए सही ऑप्शन है जिसमें चार से पाँच लोग आसानी से आ सकते है। अगर पांच से ज्यादा लोग है तब आपके लिए एमपीवी या 7 सीटर कार का विकल्प सही रहेगा। ट्रेवल बुकिंग मे सेडान और खराब रास्तों पर चलाने के लिए एसयूवी कार खरीदने के ऑप्शन आपके लिए सही रहेगा। इंटरनेशनल बिजनेस मे करियर कैसे बनाए ?

कई बार अपनी जरूरत को भूलकर दूसरों की देखा देखी कार खरीद तो लेते है लेकिन उन्हें बाद मे परेशानी होती है। इसलिए पहले अपनी जरूरत को देखे उसी हिसाब से कार का चुनाव करें। एक बाद कार खरीदने के बाद उसे बदलना मध्यम वर्ग के लिए आसान नहीं है।

कई डीलर्स से जानकारी प्राप्त करें

आप अपने बजट के अनुसार जिस भी कंपनी की कार खरीदना चाहते हैं। पहले उस कंपनी के एक से अधिक डीलर्स से जानकारी प्राप्त करें। जितना ज्यादा जानकारी आप प्राप्त करोगे आप उतनी ही बेहतर डील कर पाओगे। आपको जो भी डीलर अच्छा ऑफर्स प्रदान करें। उसी से कार की डील फाइनल करें। कभी भी केवल एक शोरूम पर जाकर कार की डीलिंग फाइनल न करें। नई कार की डीलिंग में इन बातों का रखें ख्याल

आप जिस भी डीलर से कार की डील फाइनल करते हो। उससे कार से जुड़ी हुई सभी प्रकार की जानकारी पूछे जैसे कि कार के सभी फीचर्स , कार के इंजन , माइलेज इत्यादि। इसके अलावा एक बार किसी अच्छे ड्राइवर के साथ कार की टेस्ट ड्राइव भी जरुर लें। ड्राइव भी उसी कार की लें जिसे अपने पसंद की है।

पेट्रोल या डीजल कार

पहले कारें डीजल पेट्रोल की आती थी लेकिन अब मार्केट में इलेक्ट्रॉनिक कारें भी आ रही है। ऐसे में आपके लिए यह निर्णय ले पाना काफी मुश्किल होगा कि कौन सी कार लें।

ताकि आपको बाद में परेशानी न हो। यदि आपको रोजाना 40 से 50 किलोमीटर का सफर तय करना है तो आपके लिए पेट्रोल या इलेक्ट्रॉनिक की गाड़ी बेहतर है। लेकिन अगर आपको इससे ज्यादा का सफर करना पड़ता है। या आप ट्रेवल बुकिंग के लिए गाड़ी ले रहे है। तो आप डीजल या सीएनजी की गाड़ी ले सकते हैं।

पेट्रोल की कीमत डीजल और सीएनजी की तुलना मे अधिक होती है। इसलिए डीजल और सीएनजी की गाड़िया पेट्रोल कार से महंगी आती है। फ्री टाइम मे मोबाइल से पैसे कैसे कमायें।

पेट्रोल, डीजल के एक ही मॉडल की कार में लगभग एक लाख रुपये का अंतर होता हैं। इसलिए आपको कैसे गाड़ी खरीदनी है। ये फैसला आप बड़े ही सोच विचार के साथ करें।

जल्दबाजी में कार न खरीदें

कार कंपनिया अपनी कारों की सेल तेजी से बढ़ाने के लिए कस्टमर को अलग अलग प्रकार के ऑफर्स प्रदान करती हैं। ऐसे मे बहुत से लोगों का उन ऑफर्स को देखकर मन ललचाने लगता है। ऐसे मे अगर किसी को कार की जरूरत नहीं भी हो। वो भी कार लेनी को सोचता है।

कंपनियों के द्वारा डिस्काउंट और ऑफर्स केवल लोगों को कारों के प्रति लुभाने के लिए होते है। वो एक मार्केटिंग का हिस्सा है। कोई भी कंपनिया आपको अपनी कार कम दामों पर नहीं देती है। वो कार के रेट बढ़ाकर उसमे से ही कम करके दिखती है। जिससे लोगों को लगता है कि कार के दामों मे छूट मिल रही है। इसलिए केवल डिस्काउंट और ऑफर्स देखकर कार खरीदने का प्लान न बनाए। गाँव मे काम शुरू किये जाने वाले टॉप बिजनेस आइडियाज

इंश्योरेंस और पॉलिसी की भी जानकारी लें

कार खरीदने के साथ ही आपको कार इंश्योरेंस लेना होता है, जो विशेष परिस्थितियों में कार की सुरक्षा करता है। इसलिए कार खरीदने से पहले आपको कार इंश्योरेंस खरीदने के बारे में सोचना होगा। इंश्योरेंस पॉलिसी लेने पहले एक से अधिक कंपनियों के कवर के बारे में जानकारी लें। कि इंश्योरेंस कवर कौन सी कंपनी का बेहतर होगा। आपको जिसने भी फायदा नजर आए उसकी कंपनी से इंश्योरेंस कवर लें। इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन बिज़नेस कैसे करें

आफ्टर सेल सर्विस

कार खरीदने के बाद आपकी गाड़ी कितने लंबे समय तक सही चलेगी। ये आपके ऊपर निर्भर है। आप कार की सर्विसिंग और देखभाल जीतने बेहतर तरीकों से करेंगे आपकी कार उतनी ही अच्छी और लंबे समय तक आपका साथ देगी। आप जिस भी कंपनी की कार खरीद रहे है। इसे भी जरूर पढे : घर बैठे ऑनलाइन पैसे कमाने के तरीके

पहले यह भी देख लें कि आपके नजदीक किस कंपनी का सर्विसिंग स्टेशन है। इसकी जानकारी आप इंटरनेट की मदद से देख सकते हैं। अगर किसी कंपनी का सर्विस स्टेशन आपके घर से काफी दूर जहा पर आपको जाने मे परेशानी होती है। तो ऐसी कंपनी की कार को खरीदने से बचें।

लेख में आपने क्या सीखा

इस लेख मे हमने आपको नई कार खरीदने से जुड़ी हुई कुछ महत्वपूर्ण बातों के बारे मे विस्तार से जानकारी दी हैं। ताकि जब भी आप नई खरीदने के लिए शोरूम में जाओ तो आपको कोई कार सेल्समैन धोखा न दे सकें। इस लेख में हमने आपको बताया है कि नई कार कैसे खरीदे New Car Kaise Kharide,  नई कार की डीलिंग कैसे करे how to deal new car hindi , इत्यादि

अगर आपको हमारे द्वारा दी गई ये जानकारी पसंद आई है तो आप अपनी राय हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। इस जानकारी को दूसरे लोगों के सभी भी शेयर करें ताकि वे भी स्मार्ट बन सके। इस जानकारी को लेकर अगर आपका किसी प्रकार का सवाल है तो आप कमेंट करके पूछ सकते हैं। हम आपके सवालों का जवाब देने की जरूर कोशिश करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here