Gas Cylinder Kaise Use karen Hindi : इन टिप्स को आजमा लो, आपका गैस सिलेंडर पहले से 10 से 15 दिन अधिक चलेगा।

Gas Cylinder Kaise Use karen Hindi
Gas Cylinder Kaise Use karen Hindi

देश में एलपीजी सिलेंडर की कीमतें लगातार बढ़ती जा रही हैं। जिसके कारण लोगों की रसोई का बजट बिगड़ता जा रहा हैं। बहुत से लोग ऐसे होते हैं जो सिलेंडर का इस्तेमाल भी जरूरत के हिसाब से करते हैं लेकिन फिर भी उनका सिलेंडर जल्दी खत्म हो जाता हैं।

ऐसे में अगर आप चाहते है कि महंगाई के इस दौर में आपका एलपीजी सिलेंडर पहले से ज्यादा दिनों तक चले ताकि आपकी रसोई का बजट बना रहें। तो आप इस लेख को पूरा पढ़ें। इस लेख में हम आपको बताने वाले कुछ ऐसे टिप्स के बारें में जानकारी देने वाले हैं। अगर आप इन टिप्स को फॉलो करोगे तो आपका सिलेंडर पहले से 10 से 15 दिन ज्यादा चलेगा। Gas Cylinder Kaise Use karen Hindi

Gas Cylinder Kaise Use karen Hindi

जब से देश में पीएम उज्ज्वला योजना के तहत गरीब लोगों को एलपीजी गैस सिलेंडर बांटे गए थे। तब से शहरी क्षेत्रों के अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में भी बड़े स्तर पर लोग घरों में खाना पकाने के लिए एलपीजी गैस सिलेंडर का इस्तेमाल कर रहे हैं ।

लेकिन अब महंगाई के इस दौर में गरीब और माध्यम वर्ग के लिए गैस सिलेंडर भरवाना काफी मुश्किल हो रहा हैं। लोग को घर के खर्चों में कमी करके जैसे तैसे गैस सिलेंडर भरवाते हैं। फिर उन्हे यह शिकायत रहती हैं कि उनका गैस सिलेंडर जल्दी खत्म हो जाता हैं। ऐसे में अगर आप चाहते है कि आप साल मे 12 सिलेंडर की बजाय 8, 9 ही सिलेंडर खरीदे तो लेख को अंत तक पढ़ें। यह जानकारी आपके सिलेंडर खत्म होने के समय को बढ़ा देगी।

गैस बचाने के टॉप तरीके

गीले बर्तन को चूल्हे पर न चढ़ाएं

बहुत से महिलाये खाने पकाने का काम खत्म करने के बाद बर्तनों को धोना भूल जाती हैं। या फिर उन्हे धोने में आलस कर जाती हैं। जिसके कारण जब दोबारा से खाना पकाने के लिए उन्हे बर्तनों की जरूरत होती हैं तो वे खाना पकाने से पहले ही बर्तनों को धोकर गेस पर खाना पकाने के लिए रख देती हैं। जिसके कारण गेस पहले गीले बर्तन को सुखाती हैं। उसके बाद ही आपका खाना पकाना शुरू होता हैं।

यानि कि बर्तन को सुखाने के लिए भी गेस की बर्बादी हो रही हैं। इसलिए इस समस्या से बचने के लिए आप जिस भी बर्तन में खाना पकाना चाहते हैं । उसे पहले से ही धोकर अच्छे से सूखा दें। ताकि जब आप उसे चूल्हे पर रखो को तो वो गीला न हो। ऐसे करने से आपको थोड़ी बहुत गेस की जरूर बचत होगी।

खाना पकाते समय सारा सामान साथ रखें

बहुत सी महिलाये खाना बनाते समय पहले बर्तन को चूल्हे पर रख देती हैं। उसके बाद काभी प्याज काटने लगती हैं। कभी कुछ मसाला डालना भूल जाती हैं। इत्यादि। जिसके कारण उन्हे कई बार गेस को कम या ज्यादा करना पड़ता हैं।

जिससे कई बार गेस फालतू में चलती रहती हैं। आपका ध्यान इस पर नहीं जाता हैं। इससे बचने के लिए आप जिस भी तरह का खाना पकाना चाहते हैं। उसे पकाने में इस्तेमाल होने वाला सभी सामान पहले अपने पास रख लें। तभी गेस पर बर्तन रखकर पकाना शुरू करें। इससे आपकी गेस की काफी बचत होगी। इसे भी जरूर पढे :- AC खरीदते समय किन किन बातों का ध्यान रखे

फ्रिज से निकालकर सीधे गैस पर रखने से बचें

आजकल खाने पीने से जुड़े हुए समान को फ्रीज में रखने का ट्रेंड चल रहा हैं। ऐसे में लोग खाने पीने से जुड़े हुए प्रोडक्ट इस्तेमाल करने के लिए डायरेक्ट फ्रिज से निकालकर गेस चूल्हे पर रख देते हैं।

जिसके कारण सामान को ठंडे से नॉर्मल करने में ही पहले काफी गैस खर्च हो जाती हैं। जिसके बारे में बहुत से लोगों को जानकारी नहीं होती हैं। इसलिए ऐसा करने से बचें।

आप फ्रिज में रखी हुई जिस भी चीज को गैस चूल्हे पर रखना चाहते हैं। उसे चूल्हे पर रखने के 30 मिनट या 1 घंटे पहले निकालकर बाहर रख दें। ज्यादा ठंडा हो तो पानी में रखकर भी नॉर्मल कर सकते हैं। ऐसा करने से आपकी काफी गैस की बचत होगी। नई कार की डीलिंग में इन बातों का रखें ख्याल

Gas Cylinder Kaise Use karen Hindi

खुले बर्तन में पकाने से बचें

बहुत सी महिलाएं खाने पकाने , चाय पकाने , दूध गर्म करने इत्यादि काम को गैस चूल्हे पर करते समय बर्तन पर ढक्कन नहीं लगाती हैं। कई महिलाएं जान बूझकर ये काम नहीं करती हैं तो कई ढक्कन रखना भूल जाती हैं। ऐसा करने से खाना पकाने याद दूसरे काम करने में भी ज्यादा समय लगता हैं।

जिससे गैस भी पहले से ज्यादा लगती हैं। इसलिए आप गैस चूल्हे पर कुछ भी काम कर रहे हो तो उसे पकाते समय बर्तन पर ढक्कन जरूर रख दें। इससे खाना भी जल्दी पकेगा और समय की भी बचत होगी। नई कार खरीदने से पहले इन 10 जरूरी बातों को नजरअंदाज बिलकुल न करें वरना हो सकता है नुकसान

प्रेशर कुकर का इस्तेमाल करें

एक सर्वे में यह बात सामने आई हैं कि प्रेशर कुकर भी खाना पकाने से समय और ऊर्जा दोनों की बचत होती हैं। सर्वे के मुताबिक प्रेशर कुकर से चावल पकाने पर 20%, भीगे चने की दाल पर 46% तक गैस की बचत की जा सकती हैं।

पानी को एक बार उबालें

बहुत से लोगों को दिन में कई बारे चाय पीने की आदत होती हैं। या फिर गरम पानी पीने की आदत होती हैं। जिसके कारण काफी गैस की खपत होती हैं। ऐसा इसलिए होता हैं कि आप दिन में जितनी भी बार चाय या पानी गर्म करोगे तो पहले बर्तन गरम होगा उसके बाद ही आगे की प्रक्रिया शुरू होगी। पुरानी सेकंड हैंड कार खरीदने जा रहे हैं, तो इन बातों के बारे मे जान लें वरना हो सकता है भारी नुकसान

इसलिए पानी को बार बार गर्म करने के बजाय एक बार ही गरम करके उसे थर्मस में रख लें। जिससे आपका पानी गर्म ही रहेगा। जब भी आपको चाय पकानी हो या गर्म पानी पीना हो आप उसे इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे आपकी काफी गैस की बचत होगी।

लीक की जांच कर लें-

कई बार गैस सिलेंडर के पाइप से गैस लीक होती हैं। जिसका पता भी नहीं चलता हैं। अगर लीकेज अधिक होती हैं तो उसका पता चल जाता हैं। लेकिन अगर लीकेज कम हो तो उसके बारे पता नहीं चलता हैं। इसलिए हर महीने में या समय समय पर गैस पाइप की लीकेज जांच जरूर कराएं। वरना आपकी गेस बर्बाद होती रहेगी। आपको पता भी नहीं चलेगा।

बर्तन को साफ रखें-

खराब या जले हुए बर्तन में खाना पकाने में अधिक समय लगता हैं । इसलिए हमेशा साफ और सही बर्तन में ही खाना पकाये। अगर बर्तन खराब हो तो उसे तुरंत बदले या अलग रख दें। एसी ( AC) के महंगे बिजली बिल से बचने के लिए सोलर एसी लगवाये?

गैस की आंच को कम रखें –

आप जब भी गैस चूल्हे पर खाना पका रहे हो तो गैस की आंच बर्तन के हिसाब से रखे। अगर चूल्हे पर बर्तन पर छोटा रखा हुआ हैं तो आंच हमेशा कम ही रखें। धीमी आंच पर खाना पकाने से गैस की खपत कम होती हैं। यही नहीं धीमी आंच पर खाना पकाने से खाने में पोषक तत्व भी बने रहते हैं।

गैस की आंच के रंग को देखें

अगर आपके सिलेंडर की गैस लीक हैं तो इसका पता आप गैस की लो देखकर भी लगा सकते हैं। अगर गैस का रंग अगर पीला, ऑरेंज या लाल है , इसका मतलब हैं आपके सिलेंडर की गैस लीक हो रही हैं। या फिर उसमें कचरा फंसा हुआ है । आपको पाइप और चूल्हे की सफाई करनी होंगी। वाटर प्यूरीफायर खरीदने से पहले इन 10 बातों के बारें में जरूर जाने लें वरना हो सकता हैं बड़ा नुकसान

अगर गैस का रंग हमेशा नीला तो फिर आपका चूल्हा और पाइप सही हैं। जब भी आपको गैस की लौ का रंग बदलता हुआ दिखाई दें तो तुरंत इसकी सफाई करें।

इलेक्ट्रिक रॉड खरीदे।

सर्दियों के मौसम में गरम पानी करने की काफी जरूरत होती हैं । ऐसे में अगर आप पानी को गर्म करने के लिए भी गैस का इस्तेमाल करते हैं तो इसे तुरंत बंद कर दें। पानी को गर्म करने के लिए आप मार्केट से 200, 250 रुपये की पानी गरम करने की इलेक्ट्रिक रॉड खरीद सकते हैं। ऐसा करने से आपकी गैस की खपत कम होगी। आप अधिक समय तक गैस सिलेंडर का इस्तेमाल कर पाओगे। इसे भी जरूर पढे : कम खर्च मे शुरू होने वाले 100 से अधिक बिजनेस आइडियाज इसे भी जरूर पढे : बेरोजगारो के लिए महत्वपूर्ण जानकारी

सिलेंडर के मेन नॉब को बंद कर दें

गैस का इस्तेमाल होने के बाद उसे चूल्हे से ही बंद न करें बल्कि मैन सिलेंडर से बंद करें। खुले हुए नाब से इस्तेमाल न होने पर भी हल्की फुल्की गेस निकलती रहती हैं।

बर्तन के तले से चौड़े वाले ही खरीदें

चूल्हे पर किसी भी तरह का खाना पकाने के लिए बर्तन हमेशा चौड़ी तली के ही खरीदें। जो गेस की लो को पूरी तरह से कवर कर लें। गेस की लो बाहर निकलने का मतलब गेस की बर्बादी से हैं। इसलिए इससे बचे। गाँव मे काम शुरू किये जाने वाले टॉप बिजनेस आइडियाज

लेख में आपने क्या सीखा

इस लेख में हमने आपको बताया है कि कोई भी व्यक्ति इन छोटी छोटी बातों को अपनाकर अगर उनका सिलेंडर 30 दिन चलता हैं तो उसे कैसे 40 से 50 दिन तक चला सकते हैं। ये बातें देखने सुनने में आपको बहुत छोटी लगेगी। लेकिन अगर आप इन बातों को फॉलो करते हो आपको इनका बड़ा रिजल्ट मिलेगा। इसलिए इन्हे नजरअंदाज न करें। इस लेख में हमने आपको बताया है कि कैसे आप अपने गेस सिलेंडर की समय सीमा को बढ़ा सकते हैं।

उम्मीद करते हैं आपको ये जानकारी काफी यूजफुल लगी होगी। अगर वाकई में आपको यह जानकारी यूजफुल लगी हैं तो हमें कमेंट करके बताये। इस जानकारी को दूसरे के साथ भी शेयर करें ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग इन टिप्स के बारें में जानकर अपना गेस खर्च बचा सकें। हमे पता हैं कि आप पोस्ट को शेयर करने में कंजूसी करते हैं। लेकिन इस बार न करें । क्योंकि यह जानकारी सभी देशवासियों के काम आ सकती हैं इससे गरीब और माध्यम वर्ग को काफी फायदा मिलेगा । इसी प्रकार की यूजफुल जानकारी प्राप्त करने के लिए आप हमारे पुराने ब्लॉग भी पढ़ सकते हैं। आपको ब्लॉग की जो भी केटेगीरी पसंद है। उस केटेगीरी में जाकर पुराने ब्लॉग जरूर पढ़ें। वे भी आपके काफी काम आएंगे। अगर आप किसी और टॉपिक पर जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो हमे कमेंट करके बताएं ताकि हम आपकी मदद कर सकें। धन्यवाद।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here